Chalisa Paath Kaise Karen / चालीसा पाठ कैसे करें

Chalisa Paath Kaise Karen
चालीसा पाठ कैसे करें


Chalisa Path Kaise Karen, चालीसा पाठ कैसे करें :-
पूजा पाठ में चालीसा का बहुत महत्त्व है। हमारे हिन्दू धर्म में जितने भी देवी-देवता हैं उन सभी को प्रसन्न करने हेतु चालीसा, आरती आदि कई ग्रन्थ, वेद, पुराण, भागवद्गीता, दुर्गासप्तशती, श्री रामचरितमानस जैसे अनेक महाग्रन्थ हैं।

चालीसा का पाठ कैसे करे —

  • सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और साफ कपडे पहने।
  • अपना मुँह पूर्व दिशा में रखें और साफ आसन पर बैठे।
  • पूजा में धूप दीप सफेद चंदन माला और स्फटिक माला और सफेद 5 फूल भी रखें और मिश्री को प्रसाद के लिए रखें।
  • पाठ करने से पहले गाय के घी का दिया जलायें और एक लोटे में शुद्ध जल भरकर रखें।
  • जिस भी देवी-देवता का पाठ करना है उसे भक्ति भाव से करें और भगवान को प्रसन्न किया जा सकता है।
  • पाठ पूरा हो जाने के उपरांत लोटे का जल सारे घर में छिड़क दें और थोड़ा सा जल स्वयं पी लें।

चालीसा पाठ करने के लाभ —

  • चालीसा का पाठ करने से आध्यात्मिक, भौतिक और भावनात्मक खुशी की प्राप्ति होती है। 
  • रोजाना चालीसा के पाठ करने से मन को शान्ति प्राप्त होता है। बड़े-बड़े ऋषि मुनि मन को शान्त करने के लिए रोजाना चालीसा का पाठ करते थे।
  • अपने शरीर में साकारात्मक ऊर्जा का संचार बनाए रखने के लिए रोजाना चालीसा का पाठ कर सकते हैं।
  • दुश्मनों को हराने, नाकारत्मक ऊर्जा से लड़ने के लिए प्रतिदिन चालीसा का पाठ करना अति शुभ माना जाता है।
  • अपने मानसिक शक्ति को विकसित करने के लिए प्रतिदिन चालीसा का पाठ करना अति उत्तम माना गया है।
  • अपने परिवार जनों के हित हेतु ( अर्थात् वित्तीय नुकसान, संकट और नुकसान आदि ) के लिए प्रतिदिन चालीसा का पाठ करना चाहिए।

Leave a Comment

error: Content is protected !!