Dhulika Parv / धूलिका पर्व

Dhulika Parv
धूलिका पर्व


Dhulika Parv, धूलिका पर्व :- चैत्रमास कृष्ण पक्ष प्रतिपदा परिवा अर्थात् होली के बाद धूलिका त्यौहार मनाया जाता है। इस दिन होली की अवशिष्ट राख की बंदना की जाती है। वैदिक मंत्रों से अभिषिक्त उस राख को सभी लोग मस्तक पर लगाते हुए एक-दूसरे से प्रेम पूर्वक मिलते हैं।

दिन के दूसरे पहर में रंग, गुलाल, अबीर, कुमकुम, केसर की सावनी बौछार लगाई जाती है।

इसे भी पढ़ें :-

Leave a Comment

error: Content is protected !!