Hinduon Ke Vrat / हिन्दुओं के व्रत

Hinduon Ke Vrat Aur Tyouhar
हिन्दुओं के व्रत और त्यौहार


हमारे हिन्दू रीति-रिवाजों में जितने भी देवी-देवता हैं उन सभी की उपासना के लिए हमारे हिन्दु धर्म में अलग-अलग पूजा विधि-विधान के साथ व्रत और त्यौहार हैं। हमारे हिन्दू में धर्म वर्ष भर में अलग-अलग मास में अलग-अलग व्रत और त्यौहार हैं। हिन्दू धर्म के अनुसार कुल बारह मास होते हैं। जिसमें चैत्र मास (शुक्ल पक्ष, वैशाख मास, ज्येष्ठ मास, आषाढ़ मास, श्रावण मास, भाद्रपद मास, आश्विन मास, कार्तिक मास, मार्गशीर्ष ( अगहन ), पौष मास, माघ मास और फाल्गुन मास होते हैं।

  1. चैत्र मास ( शुक्ल पक्ष ) में नवरात्र, रामनवमी, कामदा एकादशी, गणेश दमनक चतुर्थी, चैत्री पूर्णिमा आदि व्रत और त्यौहार आते हैं।
  2. वैशाख मास में शीतलाष्टमी, श्रीनृसिंह जयन्ती, अक्षय तृतीय, बैशाखी पूर्णिमा, मोहिनी एकादशी आदि व्रत और त्यौहार आते हैं।
  3. ज्येष्ठ मास में अचला एकादशी, गंगा दशहरा, वटसावित्री पूजन, निर्जला एकादशी आदि व्रत और त्यौहार होते हैं।
  4. आषाढ़ मास में योगिनी एकादशी, गुरुपूर्णिमा-व्यासपूर्णिमा, श्रीजगन्नाथ रथ-यात्रा, कोकिला व्रत, देवशयनी एकादशी आदि व्रत और त्यौहार होते हैं।
  5. श्रावण मास में शिवजी के व्रत, नाग पंचमी, मंगला-गौरी पूजन और व्रत, पुत्रदा एकादशी, कामिका एकादशी, रक्षाबन्धन आदि व्रत और त्यौहार आते हैं।
  6. भाद्रपद मास में कजरी तीज, बूढी तीज, बहुला चौथ, गूँगा पंचमी-भाई-भिन्ना, हल षष्टी ( ललही छठ ), श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, प्रबोधिनी एकादशी, हरितालिका व्रत, गणेश चतुर्थी, ऋषि पंचमी, महालक्ष्मी व्रत, अनन्त चतुर्दशी आदि व्रत और त्यौहार होते हैं।
  7. आश्विन मास में नवरात्र स्तुति, अशोक व्रत, दुर्गाष्टमी, महालक्ष्मी व्रत, जीवितपुत्रिका व्रत, नवरात्रारम्भ, दुर्गाजी के नौ रूपों की कथा, दशहरा-विजया दशमी, शरत् पूर्णिमा आदि व्रत और त्यौहार होते हैं।
  8. कार्तिक मास में तारा भोजन, करवा चौथ, अहोई अष्टमी का व्रत, धनतरेस-धन्वन्तरि जयन्ती, छोटी दिवाली, बड़ी दीवाली, लक्ष्मी पूजन, भैया दूज, सूर्यषष्ठी व्रत, आँवला नवमी, देवोत्थान एकादशी, तुलसी विवाह, बैकुण्ठ चतुर्दशी, कार्तिक पूर्णिमा-गंगास्नान भीष्म पंचक व्रत आदि व्रत और त्यौहार होते हैं। 
  9. मार्गशीर्ष (अगहन ) मास में श्री भैरव जयन्ती, मोक्षदा एकादशी, उत्पन्ना एकादशी,मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत आदि व्रत और त्यौहार होते हैं।
  10. पौष मास में सफला एकादशी, पुत्रदा एकादशी, ब्रह्मगौरी पूनम व्रत, पौष पूर्णिमा स्नान आदि व्रत और त्यौहार होते हैं। 
  11. माघ मास में गणेश चतुर्थी ( संकट चौथ ), सूर्य सप्तमी, शीतला षष्टी, भीमाष्टमी, बसंत पंचमी, माघ एकादशी माघ पूर्णिमा आदि व्रत और त्यौहार होते हैं। 
  12. फाल्गुन मास में जानकी नवमी, विजया एकादशी, महाशिवरात्रि व्रत, आसमाता की पूजा, होलिका पर्व आदि व्रत और त्यौहार होते हैं।

हमारे हिन्दू धर्म में सात दिनों के देवी-देवता के अलग-अलग व्रत हैं।  रविवार व्रत, सोमवार व्रत, मंगलवार व्रत, बुधवार व्रत, बृहस्पतिवार व्रत, शुक्रवार व्रत और शनिवार व्रत हैं।

और पढ़ें

Leave a Comment

error: Content is protected !!