Sri Jagannath Rath Yatra / श्री जगन्नाथ रथ यात्रा

श्रीजगन्नाथ रथ यात्रा
Sri Jagannath Rath Yatra


Sri Jagannath Rath Yatra, श्री जगन्नाथ रथ यात्रा :- आषाढ़ शुक्ल पक्ष द्वितीया को रथ यात्रा का यह उत्सव मनाया जाता है। इस दिन भगवान का रथ सुभद्रा सहित बड़ी धूमधाम से निकाला जाता है। इस दिन भगवान् का रथ सुभद्रा सहित बड़ी धूमधाम से निकाला जाता है। जगन्नाथ पूरी में भगवान जगदीश का जो रथ निकाला जाता है, वह पुरे भारत में विख्यात है।

जगन्नाथ जी का जो रथ उठता है वह 45 फुट ऊँचा, 35 फूट चौड़ा तथा 35 फूट लम्बा होता है, जिसमें 16 पहिये होते हैं। इसी तरह सुभद्रा जी का रथ 43 फुट ऊँचा तथा 12 पहिये वाला होता है। प्रतिवर्ष नये रथों का इस्तेमाल किया जाता है। मंदिर के सिंहद्वार से रथासीन होकर भगवान् जनकपुर की ओर प्रस्थान कराये जाते हैं। जनकपुर पहुँचने पर भगवान् वहाँ तीन दिन निवास करते हैं। इसी स्थल पर लक्ष्मी जी से भी उनका साक्षात्कार होता है। तत्पश्चात् पुनः रथ जगन्नाथपुरी को लौट आता है।

इसे भी पढ़ें :–

Leave a Comment

error: Content is protected !!